सामान्य एवं प्रीपेड मीटर को सार्वजनिक तौर पर एक सप्ताह का डेमो करे विभाग- सुरेन्द्र

860


समस्तीपुर,
प्रीपेड विधुत मीटर से अशिक्षित, दलित, गरीब व आम उपभोक्ताओं को होने वाली परेशानी को देखते हुए अन्य संगठनों एवं दलों को साथ लेकर भाकपा माले ने संघर्ष का रास्ता अख्तियार करेगी. इसे लेकर 10 अक्टूबर को शहर के विवेक-विहार मुहल्ला स्थित संत पाल स्कूल पर 2 बजे दिन से सर्वदलीय “विमर्श” में छात्र, नौजवान, व्यवसायी, बुद्धिजीवी, पत्रकार, तमाम संगठनों एवं सर्वदलीय नेताओं को भाग लेकर सफल बनाने हेतु आमंत्रित किया जा रहा है.
प्रेस विज्ञप्ति जारी कर रविवार को इस आशय की जानकारी देते हुए चर्चित बिजली आंदोलन सह भाकपा माले नेता सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा है कि प्रीपेड विधुत मीटर उपभोक्ताओं की गाढ़ी कमाई लूटने की मशीन है. समस्तीपुर शहर के कुछ मुहल्लों में बिजली सप्लाई कंपनी द्वारा प्रीपेड मीटर लगाया गया है. उपभोक्ताओं का कहना है कि पहले महीने भर का बिजली बिल जितना आता था, उन्हें 15-20 दिन में ही उससे ज्यादा रूपये का रिचार्ज कराना पड़ गया है. सुरेन्द्र ने कहा कि प्रीपेड मीटर उपभोक्ताओं के अधिकार पर सीधा हमला है. यहाँ के बड़ी आवादी खासकर दलित- गरीब के पास स्मार्ट फोन का आभाव है. आज भी बड़ी आवादी अशिक्षित- अनपढ़ है, उन्हें मैसेज पढ़ने, मैसेज करने, मनी ट्रांसफर करने में भारी परेशानी होगी. उपभोक्ताओं को हमेशा मोबाइल भी रिचार्ज रखना होगा.
माले नेता ने विधुत अधिकारी से मांग किया है कि वे सामान्य एवं प्रीपेड मीटर को कम से कम एक सप्ताह का सार्वजनिक डेमो कर लोगों की आशंका का दूर करें. बिजली उपयोग से ज्यादा बिल लेना अन्याय है और इस अन्याय के खिलाफ सभी संगठनों एवं दलों को साथ लेकर निर्णायक संघर्ष शुरू किया जाएगा. माले नेता ने शहरवासी से अपील किया है कि इस अभियान को सोशल साइट्स पर अपडेट करते रहे, मीटर की खामियां डालते रहे साथ ही उक्त कार्यक्रम में आकर अपनी राय देकर संघर्ष को निर्णायक बनाने में अपनी महती योगदान दें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here